टॉप स्टोरी

अमेरिका ने सीरिया में दागी मिसाइलें, रूस ने दी चेतावनी !

मीडिया रिपोर्ट 

गृह युद्ध की आग में झुलसे सीरिया में मिसाइल हमले शुरू हो गए हैं. सीरिया में केमिकल हमले के जवाब में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मिसाइल हमले का आदेश दिया है. सीरिया के खिलाफ इस बड़ी सैन्य कार्रवाई में अमेरिका के साथ फ्रांस और ब्रिटेन भी शामिल हैं. वहीं,  अमेरिका, ब्रिटेन और फ्रांस के संयुक्त हमले के बाद सीरियाई राष्ट्रपति बशर अल असद ने ट्वीट किया, ''अच्छी आत्माओं को दबाया नहीं जा सकता है.''

सीरिया में हमला करने की अमेरिकी राष्ट्रपति की घोषणा के बाद दमिश्क के पास धमाके की आवाज सुनी गई है. अमेरिकी आधिकारियों ने बताया कि सीरिया के खिलाफ इस कार्रवाई में लड़ाकू विमानों और जलपोतों का इस्तेमाल किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि इस हमले में कई तरह के बमों का भी इस्तेमाल किया जा रहा है. फ्रांस के रक्षा मंत्री ने कहा कि सीरिया में अमेरिका, फ्रांस और  ब्रिटेन की संयुक्त सैन्य कार्रवाई से पहले रूस को आगाह किया गया था.

नाटो ने भी सीरिया पर अमेरिकी हमले का समर्थन किया है. वहीं, रूस ने अमेरिका के मिसाइलों को मार गिराने की चेतावनी दी है. अमेरिका में रूसी राजदूत ने सीरिया पर अमेरिकी नेतृत्व में हमला करने के परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है. हमले के कुछ देर बाद रूसी रक्षा मंत्रालय ने कहा कि अमेरिका और उसके सहयोगियों की ओर से दागी गई मिसाइलें सीरिया में रूसी एयर डिफेंस जोन में प्रवेश नहीं की हैं.

ट्रंप ने कहा कि सीरिया में दूसरी बार केमिकल हथियारों का इस्तेमाल किया गया. ब्रिटेन  ने कहा कि सीरिया में हमला करने के अलावा कोई विकल्प ही नहीं बचा था. राष्ट्र को संबोधन में ट्रंप ने कहा कि कुछ समय पहले मैंने अमेरिकी सुरक्षा बलों को सीरियाई तानाशाह  बशर अल असद से जुड़े केमिकल हथियारों को निशाना बनाकर हमला करने का आदेश दिया था.

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.