टॉप स्टोरी

कठुआ रेप केस: पीड़ित की बहन ने कहा पहले मुझे डर नहीं लगता था, अब लगता है

कठुआ रेप केस: पीड़ित की बहन ने कहा पहले मुझे डर नहीं लगता था, अब लगता है

जम्मू कश्मीर के कठुआ में गैंगरेप के बाद मारी गई 'मासूम' की बहन ने कहा है कि उनके परिवार को जंगल में जाने से डर नहीं लगता है लेकिन रास्तों में आने जाने से डर लगने लगा है. 'मासूम' की बहन ने कहा है कि वो घोड़ों से बहुत प्यार करती थी और जंगल से अपना काम करने के बाद घोड़ों के साथ लौट रही थी. 'मासूम' की दर्दनाक हत्या के बाद उसकी बहन ने इंसाफ़ के लिए दोषियों को फांसी की माँग की है.

न्यूज 18 इंडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा हमें पता चला कि उसे इंजेक्शन दिया गया, उसके साथ गलत का किया गया. हमें तब से डर लग रहा है. मासूम' की बहन ने कहा हमें जंगलों में घूमने से डर नहीं लगता था. हम साथ- साथ जंगलों में घूमते थे. लेकिन अब मुझे डर लगता है. बहुत डर लगता है. हमारा पूरा परिवार डरा हुआ है. हमें इंसाफ चाहिए.
'मासूम' के पिता ने आरोप लगाया है कि कुछ लोग मामले को लंबा खींचने के लिए CBI जांच की मांग कर रहे हैं. न्यूज इंडिया से एक्सक्लूसिव बातचीत में 'मासूम' के पिता ने कहा कि वो अब तक की जाँच संतुष्ट हैं और कोर्ट पर पूरा भरोसा है.

वहीं 'मासूम' की माँ ने न्यूज़ 18 इंडिया से एक्सक्लूसिव बातचीत में कहा कि जिस तरह से उनकी बच्ची को मारा गया उसी तरह से दोषियों को भी सज़ा दी जाए. उन्होंने कहा कि उनकी बेटी बहुत खूबसूरत थी उसे जिस तरह से दर्द दिया गया उसी तरह से रेप और मर्डर के दोषियों को भी खुलेआम सज़ा दी जाए.

बता दें कठुआ गैंगरेप को लेकर हो रही सियासत की आँच अब जम्मू कश्मीर में बीजेपी और पीडीपी गठबंधन की सरकार पर भी पड़ रही है. पीडीपी ने धमकी दी है कि अगर बीजेपी ने इस गैंगरेप को लेकर प्रदर्शन कर रहे दो मंत्रियों लाल सिंह और चंद्र प्रकाश के ख़िलाफ़ कार्रवाई नहीं की तो गठबंधन टूट सकता है. मुख्यमंत्री महबूबा मुफ़्ती ने इस मुद्दे पर कल पीडीपी विधायकों और मंत्रियों की एक अहम बैठक बुलाई है. पीडीपी ने साफ साफ संदेश दिया है कि वो आसिफ़ा रेप केस को लेकर धर्म की राजनीति को किसी भी तरह से बर्दाश्त नहीं करेगी और जरूरत पड़ी तो वो बीजेपी से गठबंधन तोड़ने को भी तैयार है.

क्या है पूरा मामला ?

कठुआ में 10 जनवरी को 8 साल की बच्ची का अपहरण किया गया.

12 जनवरी: बच्ची के पिता ने हीरानगर पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट दर्ज कराई

पिता के मुताबिक़ बच्ची जानवर चराने गई और लौटी नहीं


17 जनवरी: पुलिस ने बच्ची का शव जंगल के पास से बरामद किया

लोगों ने झंडे लेकर आरोपियों के पक्ष में प्रदर्शन किया

23 जनवरी को क्राइम ब्रांच को केस सौंपा गया

क्राइम ब्रांच ने 8 आरोपियों के ख़िलाफ़ चार्जशीट दाख़िल की

स्थानीय वकीलों ने चार्जशीट दाख़िल करने आई टीम का विरोध किया

दो पुलिस अफ़सर और हेड कॉन्स्टेबल गिरफ़्तार

हेड कॉन्स्टेबल पर सबूत मिटाने का आरोप

चार्जशीट के मुताबिक़ बच्ची को अगवा कर शिवालय में रखा गया था

बच्ची तो नशा देकर कई बार रेप करने का आरोप

तलाश से रोकने के लिए पुलिस को रिश्वत का भी आरोप

बार-बार रेप के बाद बच्ची का गला घोंटने का आरोप

बच्ची के सिर पर पत्थर मारकर मौत के घाट उतारने का आरोप

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email