राष्ट्रीय

यूपी के मिर्जापुर में मिड डे मील में बच्चों को दी जा रही नमक-रोटी

यूपी के मिर्जापुर में मिड डे मील में बच्चों को दी जा रही नमक-रोटी

एजेंसी 

मिर्जापुर : यूपी में सरकारी स्कूलों में मिड डे मील के नाम पर आने वाले पैसे को हजम कर सरकारी स्कूल में मिड डे मील की जगह बच्चों को खाने में नमक और रोटी परोसा जा रहा है। मामले का वीडियो वायरल हुआ तो बेसिक शिक्षा अधिकारी ने मामले की जांच के आदेश दिए हैं। 

जमालपुर प्राथमिक स्कूल का मामला जमालपुर के ग्राम सभा हिनौता के सीयूर प्राथमिक विद्यालय में गुरुवार को बच्चों को मिड डे मिल में स्कूल के कर्मचारियों ने रोटी और नमक परोस दिया। इस स्कूल में 100 से ज्यादा बच्चे हैं। वहीं, इस संबंध में स्कूल में पढ़ाने वाली महिला शिक्षा मित्र शंति देवी का कहना है कि यह देख कर अच्छा नहीं लग रहा, पर मजबूरी है। टीचर भी स्वीकार कर रहे है कि लंबे समय से मिड डे मील को लेकर दुर्व्यवस्था है। इसका स्थानीय लोग भी विरोध कर चुके हैं, लेकिन कोई सुनने वाला नहीं है 

छात्रों को दिया गया नमक-रोटी स्कूल में कक्षा पांच की छात्रा मेघा का कहना है कि नमक रोटी खाने को मिला है। इससे पहले नमक व चावल मिला था। अरविंद का कहना है कि स्कूल में यह पिछले एक सालों से चल रहा है, कभी नमक रोटी मिलता है तो कभी चावल रोटी। दूध आता है तो दस लड़कों में बंटता है, केला भी आता है तो भी घर चला जाता है। 

बीएसए ने दिए जांच के आदेश मामला को तूल पकड़ता देख बेसिक शिक्षा अधिकारी प्रवीण तिवारी ने पूरे प्रकरण में जांच और कार्रवाई का आदेश देते हुए कहा कि मामला संज्ञान में भी आया है। वहां दो शिक्षक और एक प्रधानाध्यापिका और शिक्षामित्र है। विद्यालय का चार्ज किसी दूसरे अध्यापक को दिया है, आज उस विद्यालय में सिर्फ रोटी बनी थी, जांच करवा रहे हैं। यह गंभीर लापरवाही है। बेसिक शिक्षा अधिकारी ने कहा कि एमडीएम के लिए पर्याप्त राशि दी जा रही है तो मिड डे मील बनवाने के जिम्मेदारी प्रभारी अध्यापक की है, इस पर कार्रवाई होगी। प्रधान अध्यापक के ऊपर गंभीर अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी, जो भी दोषी होगा उसे बख्शा नहीं जाएगा। 

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email