राष्ट्रीय

पत्नी ने ही कराई पति की हत्या, सौदे के लिए चुराई थी पैसा

पत्नी ने ही कराई पति की हत्या, सौदे के लिए चुराई थी पैसा

एजेंसी 

नई दिल्ली : भलस्वा डेरी में एक महिला ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या की साजिश रच डाली। उसने डेढ़ लाख रुपये में भाड़े के हत्यारों से पति की हत्या का सौदा तय कर लिया। पेशगी के तौर पर दी गई 50 हजार रुपये की रकम भी उसने पति की तिजोरी से ही चुराई थी। पुलिस ने आरोपी महिला विशाखा को उसके प्रेमी अमित के साथ मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया।

पुलिस के अनुसार, 42 साल का प्रमोद भलस्वा डेरी इलाके में रहता था। उसके परिवार में 38 साल की पत्नी विशाखा और तीन बच्चे हैं। प्रमोद की मंगल बाजार रोड पर फर्नीचर की दुकान है। वह 3 जुलाई को अपनी दुकान पर बैठा था, तभी दो युवकों ने उस पर अंधाधुंध फायरिंग कर हत्या कर दी थी। मामले की जांच के दौरान एसएचओ अजय कुमार सिंह और एसआई दीपेंद्र की टीम को पता चला कि हत्यारों ने दुकान से कुछ भी नहीं उठाया था, इसलिए पुलिस को वारदात के पीछे आपसी रंजिश या अवैध संबंध का कारण नजर आया।

पुलिस को मौके से कुछ सीसीटीवी फुटेज मिलीं, जिनमें गोली चलाने वाले दोनों युवक प्रमोद के घर की तरफ जाते हुए दिखाई दिए। इससे पुलिस को हत्या के पीछे प्रमोद के किसी परिजन के शामिल होने का शक हुआ। इसी आधार पर पुलिस ने उनकी पत्नी विशाखा से सख्ती से पूछताछ की तो उसने गुनाह कबूल कर लिया।

अवैध संबंधों में बाधक बनने पर हत्या

विशाखा की निशानदेही पर पुलिस ने मंगलवार को उसके दोस्त अमित को भी गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में मालूम हुआ कि दो साल पहले विशाखा की मुलाकात पूर्णिया में अपनी भाभी के भाई के साले अमित से हुई थी। दोनों में संबंध बन गए। फिर एक साल पहले विशाखा ने उसे भलस्वा डेरी स्थित अपने घर पर बुला लिया, लेकिन प्रमोद के विरोध के कारण  अमित को घर से निकालना पड़ा। बाद में विशाखा ने उसे इलाके में ही कमरा किराए पर दिला दिया। वह खर्च के लिए रुपये आदि भी देती थी, लेकिन टोकाटाकी से तंग आकर विशाखा ने अमित के साथ मिलकर अपने पति की हत्या की साजिश रच डाली।

पति की तिजोरी से रुपये चुराकर सुपारी दी

प्रमोद की हत्या के लिए अमित ने डेढ़ लाख रुपये में दो बदमाशों से सौदा तय किया। इसके लिए विशाखा ने अपने पति की तिजोरी की नकली चाभी बनवाई और फिर उसमें से पचास हजार रुपये निकाल लिए। पचास हजार रुपये उसने  पेशगी के तौर पर हत्यारों को दे दिए। साथ ही काम होने के एक हफ्ते बाद एक लाख रुपये और देने का वादा किया गया था। पुलिस फरार भाड़े के हत्यारों की तलाश कर रही है।

More Photo

    Record Not Found!


More Video

    Record Not Found!


Related Post

Leave a Comments

Name

Contact No.

Email