‘TNS INDIA समाचार सेवा” से साभार 

– विरोध में कांग्रेस ने भीख मांग कर किया प्रदर्शन, युकां प्रदेश अध्यक्ष ने शिवराज सरकार पर लगाए गंभीर आरोप

भोपाल : भोपाल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को मोतीलाल नेहरू स्टेडियम में यूथ महापंचायत में युवा नीति लांच की। इस अवसर पर सीएम ने रिमोर्ट के माध्यम से युवा पोर्टल का भी लोकार्पण किया। मुख्यमंत्री ने इस अवसर पर धोषणा की कि एक साल में जितने चाहे नौकरी फॉर्म भरें, फीस एक बार ही लगेगी। उधर युवक कांग्रेस ने सरकार की युवा नीति और युवाओं की अनदेखी करने का अनोखा विरोध प्रदर्शन किया।युवा कांग्रेस के कार्यकर्ता और पदाधिकारियों ने पीसीसी मुख्यालय के सामने सड़क पर भीख मांग कर प्रदर्शन किया। इस दौरान कार्यकर्ताओं ने सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। उधर, मप्र युवा कांग्रेस के अध्यक्ष विक्रांत भूरिया ने ने कहा कि मप्र में भी एक गोगो मामा है, जब भी आता है तब कुछ न कुछ गोलियां देकर जाता है।

प्रदेश में सरकार की बेरोजगार करने वाली नीति चल रही है। हाल ही में खेल एवं युवा कल्याण मंत्री यशोधरा राजे सिंधिया ने विधानसभा में स्वीकारा कि प्रदेश के रोजगार कार्यालयों में रजिस्टर्ड 37 लाख 80 हजार 679 शिक्षित एवं 1,12,477 अशिक्षित बेरोजगार आवेदक रोजगार की बाट जोह रहे हैं। स्थिति यह है कि मप्र की भाजपा सरकार द्वारा बीते 3 वर्षों में मात्र 21 लोगों को शासकीय और अर्धशासकीय क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराया गया है। विक्रांत भूरिया ने कहा कि शिवराज सरकार के 17 सालों में 10 हजार 298 छात्र और 6999 बेरोजगारों ने आत्महत्या की। उन्होंने कहा कि छात्रों में बेरोजगारी की निराशा इस हद तक व्याप्त हो गई कि उसने अपने उज्जवल भविष्य का अवसर न देखकर आत्महत्या को गले लगा लिया। उन्होंने यह आकड़े का आधार नेशनल क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो (एनसीआरबी) के आधार पर जारी किए गए।

-75 लाख से अधिक युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़

विक्रांत भूरिया ने कहा कि 13 से अधिक सरकारी भर्ती और प्रवेश परीक्षा परीक्षाओं में 75 लाख से अधिक प्रदेश के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया गया। पुलिस कांस्टेबल, खाद्य निरीक्षण चयन टेस्ट, सूबेदार उपनिरीक्षक व प्लाटून कमांडर, मिल्क फेडरेशन जैसी अनेक भर्ती परीक्षा में घोटाला किया गया। इतना ही नहीं मेडिकल कॉलेज और डेंटल कॉलेज का भर्ती घोटाला व्यापं से भी बड़ा है। शिवराज सरकार दोषियों को पकडऩे की बजाए संस्थाओं के नाम बदल रही है। भूरिया ने कहा कि अब बोर्ड परीक्षाओं के पेपर लीक हो रहे हैं। यहां पेपर लीक करने वालों को रोजगार मिल रहा है।

-ग्रेजुएट युवा चपरासी के लिए आवेदन कर रहे

भूरिया ने कहा कि चपरासी, चौकीदार के पदों के लिए ग्रेजुएट युवा आवेदन कर रहे है। यह बेरोजगारी का प्रदेश में हाल है। पिछले चार साल से एक भी भर्ती नहीं हुई। इसका जवाब कौन देगा। यहीं नहीं पात्र छात्र-छात्राओं को तीन साल से छात्रवृत्ति नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि शिवराज सरकार को युवा महापंचायत की जगह महाशोक सभा करनी चाहिए थी।

-35 प्रतिशत युवाओं को काम नहीं मिल रहा

भोपाल युवा कांग्रेस के जिला अध्यक्ष नरेंद्र यादव ने कहा कि भ्रष्टाचार में डूबी मध्य प्रदेश की भाजपा सरकार ने प्रदेश के युवाओं को बेरोजगारी के अंधकार में धकेल दिया है। सीएमआईई की रिपोर्ट का हवाला देते हुए यादव ने कहा कि मध्यप्रदेश में लगभग 35 प्रतिशत युवाओं को प्रदेश में काम नहीं मिल रहा, यादव ने कहा कि आज प्रदेश में उच्च शिक्षित युवा निराश है, मध्य प्रदेश की अकर्मण्य भाजपा सरकार की वजह से प्रदेश में यह हालात पैदा हुए हैं, जिसके कारण आज प्रदेश का शिक्षित युवा आत्महत्या करने पर विवश है।यादव ने राज्य सरकार को चेतावनी देते हुए कहा है कि शिवराज सरकार यदि जल्द से जल्द युवाओं को राहत देने की ओर कदम नहीं उठाती है तो भोपाल सहित प्रदेश भर में युवा कांग्रेस उग्र आंदोलन करेगी।