राजनांदगांव
छत्तीसगढ़ राज्य के राजनन्दगॉव जिले का अंबागढ़ चौकी ब्लॉक शौचमुक्त विकास खंड

राजनांदगांव : जिले का सामाजिक, आर्थिक रूप से पिछड़ा, आदिवासी बहुल एवं नक्सल प्रभावित ब्लॉक अंबागढ़ चौकी अब छत्तीसगढ़ राज्य का पहला खुले में शौचमुक्त विकास खंड बन गया है।
    
इस विकास खंड की 69 ग्राम पंचायतों के कम से कम 151 गांव अब खुले में शौच की पुरानी प्रथा त्याग चुके हैं क्योंकि घरों में शौचालयों का निर्माण हो चुका है। अंबागढ़ चौकी छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर से करीब 150 किमी दूर है और यहां की आबादी करीब 1.05 लाख है।
    
राजनांदगांव के कलेक्टर मुकेश बंसल ने बताया अंबागढ़ चौकी में अब कोई भी व्यक्ति खुले में शौच नहीं करता। अगर कोई ऐसा करना भी चाहे तो प्रत्येक गांव में गठित सतर्कता समिति उन्हें इस शर्मनाक कुप्रथा के बारे में जागरूक करती है।

बंसल ने बताया कि न केवल अंबागढ़ चौकी खुले में शौच मुक्त पहला विकास खंड बना है बल्कि यह इस लक्ष्य को हासिल करने वाले नगर पंचायतों की अगुवाई भी कर रहा है।
    
अंबागढ़ चौकी को यह उपलब्धि महिला स्व सहायता समूहों, स्थानीय समुदायों, जन प्रतिनिधियों और स्वच्छ भारत मिशन के तहत जिला प्रशासन के सहयोग से हासिल हुई है। कलेक्टर ने बताया कि लोगों को जागरूक बनाने में दीवार पर पेंटिंग और आकर्षक पोस्टरों की बड़ी भूमिका रही है।
    
बंसल के अनुसार, अंबागढ़ चौकी के समीपवर्ती ब्लॉक छुरिया में यह लक्ष्य अगले माह के अंत तक हासिल होने की उम्मीद है। छुरिया भी आदिवासी बहुल इलाका है।

... और पढ़ें