ज्योतिष और हेल्थ

पपीता में कई रोगों का इलाज, अपनी डाइट में करें शामिल

पपीता आसानी से हजम होने वाला फल है। पपीता भूख व शक्ति को बढ़ाता है। यह कई रोगों को समाप्त करता है।

पेट के रोगों को दूर करने के लिए पपीते का सेवन करना लाभकारी होता है। पपीते के सेवन से पाचनतंत्र ठीक होता है।
 
पपीते का रस अरूचि, नींद का न आना, सिर दर्द, कब्ज व आंवदस्त आदि रोगों को ठीक करता है।

papaya
 
पपीते का रस सेवन करने से अम्लपित्त (खट्टी डकारें) बंद हो जाती है। पपीता पेट रोग, हृदय रोग, आंतों की कमजोरी आदि को दूर करता है।

पके या कच्चे पपीते की सब्जी बनाकर खाना पेट के लिए लाभकारी होता है।

पपीते के पत्तों के उपयोग से उच्च रक्तचाप में लाभ होता है और हृदय की धड़कन नियमित होती है।
 
पपीता वीर्य को बढ़ाता है, पागलपन को दूर करता है एवं वात दोषों को नष्ट करता है।

इसके सेवन से जख्म भरता है और दस्त व पेशाब की रुकावट दूर होती है।

कच्चे पपीते का दूध त्वचा रोग के लिए बहुत लाभकारी होता है।
 
पपीते के बीज कीड़े को नष्ट करने वाला और मासिक-धर्म को नियमित बनाने वाला होता है।
 
पपीते का दूध दर्द को ठीक करता है, कोढ़ को समाप्त करता है और स्तनों में दूध को बढ़ाता है।

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.