विश्व

अमेरिका ने पाक पर एक और 'नकेल' कसा, रोकी 1.15 अरब डॉलर की सुरक्षा मदद

एजेंसियों से 

अमेरिका ने पाकिस्तान पर सख्त कार्रवाई करते हुए उसको मिलने वाली 1.15 अरब डॉलर से ज्यादा की सुरक्षा मदद पर रोक लगा दी है. अमेरिकी विदेश विभाग की तरफ से गुरुवार को जारी बयान में कहा गया कि इस्लामाबाद जब तक अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी संगठनों को पनाह देना बंद कर उनके खिलाफ 'निर्णायक कदम' नहीं उठाता, तब तक यह मदद नहीं दी जाएगी.

इस राशि में खास तौर पर वित्त वर्ष 2016 के लिए विदेशी सैन्य अनुदान (एफएमएफ) में दिए जाने वाले 25 करोड़ 50 लाख डॉलर की राशि शामिल हैं, जिसे कांग्रेस ने अनिवार्य बना दिया था. इसके अलावा रक्षा मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2017 के लिए पाकिस्तान को दी जाने वाली गठबंधन सहायता निधि (सीएसएफ) 90 करोड़ डॉलर पर भी रोक लगा दी है.

विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हीदर नोएर्ट ने कहा, 'आज हम निश्चित तौर पर कह सकते हैं कि हमने पाकिस्तान को दी जाने वाली सुरक्षा सहायता को सस्पेंड कर दिया है. उसे तब तक यह मदद मुहैया नहीं की जाएगी, जब तक कि वह अफगान तालिबान और हक्कानी नेटवर्क जैसे आतंकी संगठनों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई नहीं करता. हम मानते हैं कि ये संगठन क्षेत्र में अस्थिरता फैला रहे हैं और अमेरिकी सैनिकों को निशाना बनाने का काम कर रहे हैं.'

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.