राष्ट्रीय

बाबरी विध्वंस : जुलूस निकाल रहे विहिप-बजरंग दल कार्यकर्ता पर पथराव, लाठीचार्ज

एजेंसियों से 

अयोध्या की विवादित बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना की 25वीं बरसी के मौके पर मध्य प्रदेश के उज्जैन में बुधवार को जुलूस निकाला गया। राइट विंग के कार्यकर्ताओं द्वारा उज्जैन में निकाले जा रहे जुलूस में कुछ लोगों ने पथराव कर दिया, जिसके बाद इलाके में हिंसा भड़क गई। गुस्साए लोगों को नियंत्रण में लाने के लिए पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ा और लोगों पर आंसू गैस भी छोड़नी पड़ गई। यह हिंसा उज्जैन के तोपखाना इलाके में हुई। 

दरअसल विहिप और बजरंग दल के कार्यकर्ता बुधवार को उज्जैन में बाबरी विध्वंस की बरसी पर जुलूस निकाल रहे थे। जब उनका जुलूस शहर के तोपखाना इलाके में पहुंचा उस वक्त कार्यकर्ताओं के ऊपर कुछ लोगों द्वारा पथराव किया गया, जिसके बाद गुस्साए कार्यकर्ताओं ने भी जवाब देते हुए पत्थरबाजी करनी शुरू कर दी।

कुछ ही समय में दोनों गुट आमने-सामने हो गए और हिंसा भड़क गई। भड़के लोगों ने इलाके में खड़े वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया। हिंसा इतनी भड़क गई कि उसे कंट्रोल करने के लिए पुलिस को बल का प्रयोग करना पड़ गया। उज्जैन जिला कलेक्टर संकेत भोंदवे ने बताया, ‘पुलिस ने तुरंत एक्शन लेते हुए दंगा भड़कने से रोक दिया। फिलहाल स्थिति इस वक्त कंट्रोल में है।’ इसके अलावा पथराव की एक अन्य घटना महाकाल स्क्वायर में भी हुई, लेकिन यहां भी पुलिस ने समय पर एक्शन लेते हुए दंगा भड़कने से रोक दिया।

बता दें कि बाबरी मस्जिद विध्वंस की घटना की 25वीं बरसी के मौके पर बुधवार को देश के कई इलाकों में लोगों द्वारा जुलूस निकाला गया। वहीं मुस्लिम संगठनों द्वारा भी इस विध्वंस की याद में पोस्टर्स लगाए गए। पोस्टर्स पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) ने पोस्टर्स लगवाए। संगठन के सदस्य मोहम्मद शाकिफ ने बताया, ‘हमने ये पोस्टर लगवाए हैं क्योंकि बाबरी मस्जिद की आज 25वीं बरसी। है।’ शाकिफ ने आगे कहा, ‘हम किसी को उत्तेजित नहीं कर रहे। पिछले 25 वर्षों से हम उत्तेजित हैं। हम सुप्रीम कोर्ट से इंसाफ चाहते हैं। हमें अदालत पर पूरा भरोसा है।’ संगठन ने जो पोस्टर्स लगवाए हैं उसमें बाबरी मस्जिद की 25वीं बरसी को ‘धोखे के 25 साल’ बताया गया है। पोस्टर्स में लिखा है कि कहीं हम भूल ना जाएं, बाबरी मस्जिद को दोबारा तामीर करो।

Related Post

Leave a Comments

Name

Email

Contact No.